अब ग्राहकों को कंफ्यूज नहीं कर पाएंगी टेलीकॉम कंपनियां, TRAI ने कर दिया ये काम


नई दिल्ली: ा आपको इस बात की शिकायत रहती है कि कंपनियां डेटा, स्पीड या वैलिडिटी देे का जो वादा करती हैं उसमें गड़बड़ी करती हैं, तो आपकी शिकायत रेगुलेटर ने सुन ली है. ने टैरिफ प्लान के विज्ञापनों को ले नए नियम जारी किए हैं जिससे सब्सक्राइबर्स को उनके ऑफर्स को ले पूरी जानकारी मिल सकेगी और पारदर्शिता भी आएगी. 

क्यों पड़ी नए नियमों की जरूरत?
अक्सर टेलीकॉम ग्राहकों को कंपनियों के ऑफर्स के बारे में पूरी और सही जानकारी ीं मिल पाती, जिससे वो गलत प्लान का चुनाव कर लेते हैं. TRAI ने ये विज्ञापनों के लिए नियमों पर कहा है कि ‘ऐसा देखा गया है कि टेलीकॉम कंपनियों के मौजूदा तरीके पारदर्शी ीं हैं, कुछ कंपनियां अतिरिक्त शर्तों को बेहतर तरीके से ीं बताती हैं, या तो इस तरह से बताती हैं कि जिससे जरूरी जानकारियां कहीं खो जाती हैं या ग्राहकों के लिए अपारदर्शी और समझ से परे होती हैं.’

 

नए नियमों को मुताबिक टेलीकॉम ग्राहकों को ऑफर्स की शर्तों को समझने में किसी तरह की दिक्कत न हो, इसलिए टेलीकॉम कंपनियों को भाषा को बेहद सरल रखना होगा. एक नजर TRAI की ओर से जारी की गई शर्तों पर 

टेलीकॉम कंपनियों को ये बताना होगा 
1.
सभी प्रकार के प्रीपेड प्लान में मिलने वाले वॉयस कॉल, डाटा और SMS के बारे में साफ तौर पर जानकारी देनी होगी 
2. ये बताना होगा कि कब, कहां कितने मिनट कॉलिंग की जा सकती है और रोज कितने SMS भेजे जा सकते हैं
3. प्लान खत्म होने के बाद डाटा की स्पीड क्या होगी। इसके बारे में भी बताना होगा
4. पोस्टपेड सेवाओं के मामले में प्लान की कीमत, रेंटल, सिक्योरिटी डिपॉजिट और कनेक्शन फीस की पूरी जानकारी देनी होगी
5. टैरिफ प्लान की अवधि और बिल के भुगतान की अंतिम तारीख के बारे में साफ साफ बताना होगा
6. बंडल टैरिफ प्लान है तो ग्राहकों को यह बताना होगा कि इसमें नॉन टेलीकॉम सेवाएं कौन-कौन सी हैं
7. इसके अलावा डाटा, कॉलिंग और SMS के बारे में भी जानकारी देनी होगी
8. अगर नॉन टेलीकॉम सेवाओं के लिए शुल्क लिए जा रहे हैं तो यह भी बताना होगा

ये भी पढ़ें: पुरानी गाड़ियों की स्क्रैपिंग पर एक्शन में सरकार, देखिए आपको क्या होगा फायदा

LIVE TV





Source link

This site is using SEO Baclinks plugin created by Locco.Ro

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *