डोनाल्ड ट्रंप सीरियाई लीडर बशर अल असद की करवाना चाहते थे हत्या


डोनाल्ड ट्रंप सीरियाई लीडर बशर अल असद की करवाना चाहते थे हत्या

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि वे सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद (Bashar Al Ashad) को मैं तीन साल पहले यानी 2017 में ही मार डालना (Homicide) चाहता था.

  • News18Hindi

  • Final Up to date:
    September 16, 2020, 8:47 PM IST

वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि वे सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद (Bashar Al Ashad) को मैं तीन साल पहले यानी 2017 में ही मार डालना (Homicide) चाहता था. उन्होंने कहा कि मैंने सीरियाई लीडर बशर अल असद को खत्म करने की पूरी प्लानिंग भी कर ली थी. ट्रंप ने इंटरव्यू में कहा कि मुझे ऐसा करने से जिम मैटिस (तत्कालीन अमेरिकी रक्षा मंत्री) ने रोक दिया था. ट्रंप ने फॉक्स टीवी पर एक शो के दौरान ये बातें कहीं.

अशद की हत्या का जिक्र एक किताब में भी हुआ था

वर्ष 2018 में न्यूयॉर्क टाइम्स के सीनियर जर्नलिस्ट बॉब वुडवर्ड की ‘फियर’ किताब पब्लिश हुई थी. इस किताब के मुताबिक, ट्रंप ने मैटिस को असद के कत्ल का आदेश दिया था. हालांकि, बाद में वे इससे मुकर गए थे. ट्रंप ने बाद में कहा कि मैंने ऐसा कभी नहीं सोचा और न ही इस तरह की बातें किताब में लिखी जानी चाहिए.

सीरियाई लीडर के बारे में ऐसा कहकर मुकर गए थे ट्रंपडोनाल्ड ट्रंप की खासियत ये है कि वे अक्सर अपनी कहीं हुई बातों के उलट बातें कहते हैं. उन्होंने असद को लेकर मंगलवार को जो बातें कही, उसके ठीक उलट बातें कहीं थी. ट्रंप ने असद के लिए पहले कभी कहा था कि मैं कभी सीरियाई नेता (ट्रंप असद को राष्ट्रपति नहीं कहते) के पीछे नहीं पड़ा. असद पर सीरिया के हजारों बेगुनाह लोगों की हत्या का आरोप है.

ये भी पढ़ें: चीनी सेना कर रही उकसाने वाले ट्ववीट, लद्दाख में लाउडस्पीकर पर बजा रहा है पंजाबी गाने 

 इजराइल की आपत्ति के बाद भी UAE को F-35 फाइटर प्लेन बेचूंगा: डोनाल्ड ट्रंप 

ट्रंप ने फॉक्स से साक्षात्कार में भूमिका बांधते हुए कहा कि बाइडेन में दिख रहे सुधार का कारण वह बताना चाहते हैं. ट्रंप ने कहा कि जो बाइडेन कुछ ऐसा पदार्थ ले रहे हैं, जो उन्हें सोचने की स्पष्टता दे रहा है. ट्रंप ने एक बार फिर अपनी मांग दोहराई कि 29 सितंबर को होने वाली उनकी तीन राष्ट्रपति बहसों से पहले बाइडेन को ड्रग टेस्ट से गुजरना चाहिए. उन्होंने कहा कि वे भी ड्रग टेस्ट करवाएंगे. 74 वर्षीय ट्रम्प महीनों से अमरीकी मतदाताओं को यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि 77 वर्षीय बाइडेन मानसिक कमजोरी से पीड़ित हैं.





Source link

This site is using SEO Baclinks plugin created by Locco.Ro

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *