डीएलडब्लू के प्रशासनिक भवन में आग लगी; फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने three घंटे की मशक्कत के बाद किया काबू, लाखों रुपए के नुकसान की आशंका


वाराणसी18 िनट पहले

वाराणसी में बुधवार तड़के डीएलडब्लू के प्रशासनिक में गई। आग में लाखों रुपए के ुकसा का आकलन किया जा रहा है।

  • बुधवार तड़के प्रशासनिक भवन में आग लगने के बाद मची अफरा-तफरी
  • अधिकारियों के मुताबिक नुकसान का आकलन किया जा रहा है

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के डीएलडब्ल्यू स्थित प्रशासनिक भवन में बुधवार तड़के आग लग गई। सूचना मिलने पर डीएलडब्लू प्रशासन में हड़कंप मच गया। प्रशासनिक भवन के कंप्यूटर कक्ष में आग लगने की जानकारी होने के बाद फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं और तीन घंटे के प्रयास के बाद आग पर काबू पा लिया गया। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आग कैसे लगी। उसके कारणों की जांच की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, प्रशासनिक भवन के प्रौद्योगिकी केंद्र में बुधवार सुबह करीब सवा छह बजे आग लगी थी। इसकी सूचना से रेलवे कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। इस दौरान मौके पर सेफ्टी कार्यालय के कर्मचारी, अग्निशमन की दो गाड़ियां, गेल की फायर सर्विस की गाड़ी, आरपीएफ और पुलिस पहुंच गई।

कई रिकॉर्ड जलकर हुए राख

परिसर स्थित प्रशासनिक भवन के प्रौद्योगिकी हिस्से में संदिग्ध हालात में लगी आग से कम्प्यूटर विभाग रखे गए अनेक रिकार्ड जलकर खाक हो गए। आग की भयावहता इतनी थी कि दमकल कर्मियों को अंदर जाने में परेशानी हो रही थी जिसकी वजह से फायर सर्विस के जवानों ने भवन के बाहरी हिस्से में लगे शीशे को तोड़कर आग बुझाने का प्रयास करना पड़ा।

भंडार सामग्री और महत्वपूर्ण फाइल सेक्शन में लगी थी आग
सूचना पाकर मौके पर पहुचे मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन मेहरोत्रा ने घटना स्थल का मुआयना कर के बताया की जिस कक्ष में आग लगी है, उस कक्ष में भंडार सामग्री व महत्वपूर्ण फ़ाइल सेक्शन हैं।आग बुझाने में डीरेका सेफ्टी विभाग के कर्मचारियों ने भी कक्ष की खिड़कियों और शीशे को तोड़ने में काफी मशक्कत किया।

डीरेका अधिकारियों के मुताबिक यह भवन ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी हेतु निर्धारित है।आग से नुकसान के संदर्भ में मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन महरोत्रा ने बताया समुचित अधिकारियों द्वारा आंकलन किये जाने के बाद ही नुकसान की रकम बताई जा सकती है।आग बुझाने में डीरेका फायर सर्विस,गेल इंडिया और वाराणसी फायर बिग्रेड के वाहनों की महत्वपूर्ण योगदान रहा।

0



Source link

This site is using SEO Baclinks plugin created by Locco.Ro

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *