US में टूटे रिकॉर्ड! एक दिन में 61 हज़ार नए केस मिले, ट्रंप बोले- स्कूल खोलो नहीं तो फंडिंग बंद


अमेरिकी राष्ट्रपति (फाइल फोटो)

बुधवार को में संक्रमण (Covid-19) के करीब 61 हज़ार मामले सामने आहे जिसके बाद कुल मामलों की संख्या बढ़कर 30 लाख से भी ज्यादा हो गयी है. जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने के मुताबिक, बीते हफ्ते से के 35 राज्यों में नए मामले बढ़ रहे हैं.

वाशिंगटन. अमेरिका () में कोरोना संक्रमण () ने पुराने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और ये अब पहले से भी तेजी से फ़ैल रहा है. बुधवार को अमेरिका में संक्रमण (Covid-19) के करीब 61 हज़ार मामले सामने आहे जिसके बाद कुल मामलों की संख्या बढ़कर 30 लाख से भी ज्यादा हो गयी है. जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी ने के मुताबिक, बीते हफ्ते से अमेरिका के 35 राज्यों में नए मामले बढ़ रहे हैं. हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप () अब भी कह रहे हैं कि सब कंट्रोल में है और ों को जल्द से जल्द खोल देना चाहिए.

संक्रमण के बढ़ते मामलों के बावजूद व्हाइट हाउस देश के स्कूलों को दोबारा खोलने का दबाव डाल रहा है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि स्कूल नहीं खुलने पर उन्हें दी जाने वाली फंडिंग में कटौती की जाएगी. उन्होंने स्कूलों से जुड़े सेंटर फॉर डीसीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के गाइडलाइन्स पर भी सवाल उठाए. वहीं,उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि हम सुरक्षित तरीके से स्कूल दोबारा खोल सकते हैं. जॉन्स हॉप्किंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या तीस लाख के पार चली गई है. वहीं अभी तक एक लाख 31 हज़ार मौतें दर्ज की गई हैं.

टूट रहे सभी रिकॉर्ड लेकिन ट्रंप निश्चिंत
बुधवार के दिन कैलिफ़ोर्निया और टेक्सास में 24 घंटे के अन्दर दस-दस हज़ार से ज़्यादा मामले दर्ज किए गए हैं, जो कि एक रिकॉर्ड है. हालांकि मामले लगातार बढ़ने के बावजूद व्हाइट हाउस चाहता है कि स्कूलों समेत कुछ जगहों को खोला जाए. व्हाइट हाउस में टास्क फोर्स का नेतृत्व कर रहे अमरीका के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि नियम ‘बहुत ज़्यादा कड़े’ नहीं होने चाहिए. उन्होंने कहा कि मामले कम हो रहे हैं. वहीं को लेकर व्हाइट हाउस के सलाहकार और संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथनी फॉसी ने कहा है कि की सिर्फ पहली लहर में ही देश घुटनों पर आ गया है.ये भी पढ़ें – जानिए सदगुरु के ‘भैरव’ के बारे में, जो कोरोना के खिलाफ जंग में 5 करोड़ में बिका

बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में पेंस ने महामारी से निपटने के ट्रंप प्रशासन के तरीक़े का बचाव किया और अपना मास्क नीचे करते हुए कहा, ‘हम शोक में डूबे लोगों के साथ हैं. देश भर में हमारे स्वास्थ्य कर्मियों ने असाधारण काम किया है. देश की औसत मृत्यु दर लगातार कम और स्थिर है.’ साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका का सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन यानी सीडीसी स्कूल खोलने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी करेगा. इससे पहले ट्रंप ने एक्सपर्ट बॉडी की एक योजना की ये कहते हुए आलोचना की थी कि वो “बहुत कड़ी और महंगी है”. साथ ही उन्होंने ये धमकी भी दी कि जो स्कूल पतझड़ के मौसम के बाद नहीं खुलेंगे, उनकी फंडिंग रोक दी जाएगी.

 

ट्रंप बना रहे हैं स्कूलों पर दबाव

कोरोना वायरस के कहर के बावजूद अमेरिका में स्कूलों को फिर से खोलने के आदेश की सोशल मीडिया पर भी काफी आलोचना की जा रही है. इस सबके उलट ट्रंप ने बुधवार को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि स्कूलों को फिर से नहीं खोला जाता है तो फंड रोक दिया जाएगा. ट्रंप स्कूलों पर दबाव बना रहे हैं जो कि काफी घटक साबित हो सकता है. उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने घोषणा की है कि स्कूलों से संबंधित कुछ नए आदेश भी जारी किये जाने हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने प्रांत और स्थानीय अधिकारियों पर दबाव बढ़ाया है लेकिन इसके बावजूद न्यूयॉर्क शहर ने घोषणा की कि उसके अधिकांश छात्र सप्ताह में केवल दो या तीन दिन के लिए कक्षाओं में लौटेंगे और बीच-बीच में ऑनलाइन क्लास लेंगे.

! operate(f, b, e, v, n, t, s) { if (f.fbq) return; n = f.fbq = operate() { n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments) }; if (!f._fbq) f._fbq = n; n.push = n; n.loaded = !0; n.model = ‘2.0’; n.queue = []; t = b.createElement(e); t.async = !0; t.src = v; s = b.getElementsByTagName(e)[0]; s.parentNode.insertBefore(t, s) }(window, doc, ‘script’, ‘https://join.fb.web/en_US/fbevents.js’); fbq(‘init’, ‘482038382136514’); fbq(‘monitor’, ‘PageView’);



Supply hyperlink

This site is using SEO Baclinks plugin created by Locco.Ro

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *